Sunday, April 14, 2024
spot_img

Tears of Red fort (English)

In this series, that part of the history will be discussed which depicts Shah Jahan’s construction of Red Fort in Delhi, to the independence of India that took place in the patronage of Red Forts of Delhi and Agra. These two Red Forts became a symbol of the power of India during this period.

- Advertisement -

Latest articles

गोस्वामी तुलसीदास - bharatkaitihas.com

गोस्वामी तुलसीदास का जीवनवृत्त

0
गोस्वामीजी का बाल्यकाल अत्यंत कठिन था। माँ उन्हें जन्म देने के कुछ समय बाद ही मृत्यु को प्राप्त हुई और पिता की छाया भी जल्दी ही छिन गई।
प्रथम सिद्ध सरहपाद - bharatkaitihas.com

प्रथम सिद्ध सरहपाद

0
चौरासी सिद्धों की परम्परा में हुए प्रथम सिद्ध सरहपाद ने भारत के साहित्य, दर्शन एवं अध्यात्म को गहराई तक प्रभावित किया।
सरहपा का साहित्य - bharatkaitihas.com

सरहपा का साहित्य

0
सरहपा का साहित्य सातवीं-आठवीं शताब्दी ईस्वी के भारत में भाषा, साहित्य एवं दर्शन की महत्वपूर्ण उपलब्धि थी। उन्हें हिन्दी सहित अनेक भाषाओं के प्रथम...
सरहपाद बौद्ध या हिन्दू - bharatkaitihas.com

सरहपाद बौद्ध या हिन्दू !

0
सरहपाद अथवा सरहपा द्वारा प्रतिपादित सहजयान सम्प्रदाय को बौद्धधर्म के अंतर्गत गिना जाता है किंतु दार्शनिक स्तर पर सरहपाद बौद्धदर्शन से काफी दूर है।
श्रीराम जन्मभूमि मंदिर - bharatkaitihas.com

श्रीराम जन्मभूमि मंदिर किसने तोड़ा?

0
महमूद गजनवी का उद्देश्य मंदिरों की सम्पदा को लूटना था। राममंदिर इसलिए महत्वहीन था क्योंकि वहाँ सम्पदा मिलने की आशा नहीं थी।
// disable viewing page source