Thursday, February 22, 2024
spot_img

43. पोप

रोमन कैथोलिक चर्च के सर्वोच्च धर्म-गुरु, रोम के बिशप एवं वैटिकन के राज्याध्यक्ष को पोप कहते हैं। ‘पोप’ का शाब्दिक अर्थ ‘पिता’ होता है। यह लैटिन भाषा के ‘पापा’ (papa) शब्द से बना है जो स्वयं ग्रीक भाषा के ‘पापास्’ (pápas) शब्द से व्युत्पन्न है। उन्हें संत पापा (पिता) तथा ‘होली फादर’ भी कहते हैं।

ईसा ने अपने महाशिष्य संत पीटर को अपने चर्च का आधार तथा ‘प्रधान चरवाहा’ नियुक्त किया था और उन्हें यह आश्वासन दिया था कि उनका चर्च शताब्दियों तक अस्तित्व में रहेगा। संत पीटर का देहांत रोम में हुआ था। इसलिए प्रारंभ ही से संत पीटर के उत्तराधिकारी, रोम के बिशप, समूचे चर्च के अध्यक्ष तथा पृथ्वी पर ईसा के प्रतिनिधि माने गए।

रोम के बिशप के अतिरिक्त किसी ने कभी संत पीटर का उत्तराधिकारी होने का दावा नहीं किया किंतु पूर्वी चर्च के अलग हो जाने से तथा प्रोटेस्टैंट मत के उद्भव से पोप के अधिकारों के विषय में शताब्दियों तक वाद विवाद होता रहा। अंततोगत्वा वैटिकन के पोप ही इस पद पर प्रथम अधिकार रखते हैं।

वे ईसा की शिक्षाओं के सर्वोच्च व्याख्याता हैं और चर्च के परमाधिकारी की हैसियत से धर्मशिक्षा की व्याख्या करते समय भ्रमातीत अर्थात् अचूक हैं। पोप जॉन पाल (द्वितीय) (ई.1978-2005) वैटिकन को आधुनिक युग में लाए।

पोप बेनेडिक्ट (सोलहवें) को 19 अप्रैल 2005 को कैथोलिक चर्च के 265वां पोप चुना गया। वर्ष 2013 में अर्जेन्टीना मूल के ‘फ्रांसिस’ नए पोप बने। ग्रेगोरी (तृतीय) (ई.731-41) के बाद ‘फ्रांसिस’ पहले पोप हैं जो यूरोप से बाहर के हैं। वर्तमान समय में वही सेंट पीटर्स बेसिलिका एवं कैथोलिक चर्च के सर्वोच्च धर्माधिकारी हैं तथा वेटिकन के शासक हैं।

TO PURCHASE THIS BOOK, PLEASE CLICK THIS PHOTO.

वेटिकन सिटी

ई.1929 में पोप लुईस (नवम्) तथा इटली के राजा इमैनुएल (तृतीय) के बीच हुई संधि के बाद वेटिकन सिटी नामक धार्मिक राज्य अस्तित्व में आया। यह राज्य, इटली के लगभग मध्य में स्थित रोम नामक शहर में स्थित है। यह कैथोलिक चर्च के प्रमुख पोप का अधिकृत निवास तथा उनकी राजधानी है। पोप इस राज्य के एकमात्र शासक हैं। वर्ष 2005 में वेटिकन सिटी को पूर्ण स्वतंत्र राज्य का दर्जा दिया गया।

भौगोलिक तथा राजनीतिक विस्तार

वैटिकन सिटी टाइबर नदी के पश्चिमी छोर पर रोम के मध्य में एक त्रिकोणीय भूमि पर स्थित है। इसके दक्षिण-पूर्वी किनारे पर संत पीटर चौक है जिसमें सेंट पीटर्स चर्च स्थित है। इस चर्च के चारों ओर विशाल स्तंभ बने हुए हैं।

इसके उत्तर में चतुर्भुजीय क्षेत्र में प्रबंधकीय भवन तथा बेल्विडर पार्क स्थित हैं। बेल्विडर पार्क के पश्चिम में पोप का महल है और उसके आगे वैटिकन गार्डन है जो कि इस छोटे साम्राज्य का आधा भाग है। लियोनिन दीवार पश्चिमी तथा दक्षिणी सीमा का काम करती है। रोम में धार्मिक महत्त्व के कई स्थान तथा चर्च स्थित हैं जिन्हें इटली सरकार ने कर-मुक्त कर रखा है किन्तु वे धार्मिक साम्राज्य अर्थात् वैटिकन सिटी का भाग नहीं हैं।

वैटिकन सिटी की अपनी नागरिकता, अपनी करंसी, अपनी डाक टिकट तथा अपना झंडा तथा अपने राजनयिक हैं। यह चर्च पूरे साल यात्रियों के खुला रहता है। यहाँ आने वाले श्रद्धालु पोप से सार्वजनिक एवं व्यक्तिगत रूप से मिल सकते हैं।

वेटिकन का अपना समाचार पत्र, रेलवे स्टेशन तथा प्रसारण सुविधाएं भी हैं। वैटिकन सिटी के सात विश्वविद्यालय हैं जो रोम में स्थित हैं। वैटिकन सिटी की स्वतंत्रता अक्षुण्ण है तथा इसकी सुरक्षा रोम की सरकार द्वारा की जाती है।

चर्च की सरकार

पोप वेटिकन के चर्च को कार्डिनल्स के कॉलेज के माध्यम से नियंत्रित करते हैं। वे हर प्रकार का निर्णय लेने के लिए स्वतंत्र होते हैं किन्तु वे सभी मामलों में कार्डिनल्स पर भरोसा करते हैं और उनसे सलाह लेते हैं। स्विस गार्ड की सैन्य टुकड़ी पोप के अंगरक्षकों के रूप में नियुक्त रहती है जिसकी स्थापना 16वीं शताब्दी में की गई थी। इसके सदस्य माइकल एंजलो द्वारा डिजाइन की गई पोशाक पहनते हैं। वैटिकन सिटी की सार्वजनिक सरकार का प्रमुख, वैटिकन सिटी के लिए नियुक्त धर्माध्यक्ष आयोग का अध्यक्ष होता है जो कि एक कार्डिनल होता है एवं राज्य का विधायक होता है। राज्य को संवैधानिक कानून 2000 के अंतर्गत चलाया जाता है। कानून व्यवस्था धर्मविधान पर आधारित है और इसका न्यायालय चर्च का हिस्सा है।

महल तथा वैटिकन का खजाना

वैटिकन के महल तीन-चार मंजिला भवनों से निर्मित हैं जिनमें समय-समय पर विस्तार और बदलाव होते रहे हें। पोप का आवास और कार्यालय सेंट पीटर चौक पर बने स्तंभों के पास स्थित हैं। शेष भाग को वैटिकन संग्रहालय तथा लाइब्रेरी में बदल दिया गया है। वैटिकन संग्रहालय का विश्व भर में महत्त्वपूर्ण स्थान है। 18वीं शताब्दी में स्थापित मूसियो पायो-क्लिमैंटिनो संग्रहालय में विश्व की प्राचीनतम वस्तुएं संग्रहीत हैं।

19वीं शताब्दी में स्थापित चेयरामोंटी संग्रहालय में ग्रीक मूर्तियों का संग्रह है। वेटिकन में ब्राकियो न्योवो, मिस्री संग्रहालय एवं इट्रोस्कॉन संग्रहालय भी स्थापित किए गए हैं जिनमें विख्यात चित्रकारों गियोटा, गुरसिनो, कारावागियो तथा पॉसिन आदि कलाकारों के बनाए हुए चित्र संग्रहीत हैं। वैटिकन सिटी का संग्रहालय 14.5 किलोमीटर लंबा है।

ऐसा कहा जाता है कि यदि आप एक पेंटिंग को देखने में एक मिनट लगाते हैं तो पूरा संग्रहालय देखने में चार साल लग जाएंगे। इन संग्रहालयों में वैटिकन के कला-खजाने का एक छोटा भाग ही रखा गया है। अधिकतर मॉडर्न पेंटिग विभिन्न भवनों की गैलरियों में प्रदर्शित की गई हैं।

वैटिकन लाइब्रेरी पश्चिमी क्षेत्र में स्थित है और इसमें प्राचीन एवं मध्यपूर्व की विभिन्न भाषाओं की हस्तलिखित पांडुलिपियों को रखा गया है। वैटिकन का प्रमुख प्रार्थना भवन सिस्टीन चैपल है जिसकी छत पर माइकल एंजलो ने ई.1508 से 1512 के बीच पेंटिंग बनाई थीं और जो आज भी सुरिक्षत हैं।

वैटिकन का इतिहास

5वीं शताब्दी के बाद वेटिकन सिटी को पोप के आवास के रूप में विकसित किया गया। सम्राट कॉन्स्टेंटीन (प्रथम) ने जब सेंट पीटर बेसेलिका बनवाया तो पोप साइमाकुस ने उसके निकट ही एक महल का निर्माण करवाया।

14वीं शताब्दी में बैबिलोन के अधिकार से पहले पोप एविग्नान, फ्रांस के लैट्रन पैलस में रहता था। ई.1377 में पोप के रोम में आ जाने से वैटिकन ही पोप का अधिकृत आवास बन गया। सामान्यतः सभी पोप कलाओं के पोषक थे। उन्होंने विभिन्न प्रकार की बहुमूल्य कलाकृतियों, मूर्तियों एवं चित्रों का संग्रह किया और विशाल गैलेरियों का निर्माण करवाया।

17वीं से 19वीं शताब्दी के बीच पोप के महल के निर्माण पर वैटिकन ने काफी धन व्यय किया। ई.1870 से 1946 तक यह महल इटली के शासक का निवास रहा और वर्तमान में इटली के राष्ट्रपति का अधिकृत आवास है। वैटिकन सिटी में आज भी राजतंत्र प्रचलन में है किन्तु इस राजतंत्र में वंशवाद नहीं है। वेटिकन का राजा कुछ निश्चित नियमों के अंतर्गत चयनित होता है।

इस देश की अर्थव्यवस्था प्रकाशन उद्योग, सिक्कों के निर्माण, डाक टिकटों की बिक्री तथा अन्य आर्थिक गतिविधियों पर निर्भर है। विश्व भर में फैले कैथोलिक चर्चों से वैटिकन को अर्थिक सहायता प्राप्त होती है। डाक टिकटों तथा सिक्कों की बिक्री के अलावा वैटिकन सिटी को पर्यटन स्थल के रूप में भी आय होती है।

वैटिकन सिटी का कुल क्षेत्रफल 44 हैक्टेयर अर्थात् 110 एकड़ है। इस देश की जनसंख्या वर्ष 2007 की जनगणना के अनुसार 857 है। यह विश्व का एकमात्र राज्य है जिसमें कृषि नहीं होती। वैटिकन सिटी में साक्षरता दर शत प्रतिशत है। यहाँ बोली जाने वाली भाषाओं में अंग्रेजी, फ्रैंच, इटालियन तथा लैटिन प्रमुख हैं।

वेटिकन में स्विस, इटालियन तथा कई अन्य देशों की नागरिकता प्राप्त लोग रहते हैं। वैटिकन की अपनी डाक व्यवस्था एवं सिक्के हैं। 1 यूरो के सिक्के पर वर्तमान पोप की तस्वीर होती है और संग्रहकर्त्ताओं में इसकी भारी मांग है। इटालियन नागरिकों को अपनी सरकार की बजाए वैटिकन सिटी को सालाना 8 प्रतिशत टैक्स दान के रूप में देने की छूट होती है।

वैटिकन सिटी अपना पासपोर्ट जारी करता है। पोप, कार्डिनल्स तथा स्विस गार्ड के सदस्य इसके धारक होते हैं। वैटिकन की डाक प्रणाली का प्रयोग अधिकतर इटैलियन लोग करते हैं क्योंकि इटली की बजाए वेटिकन की डाकसेवा अधिक तेज है।

 314 मीटर लंबे और 240 मीटर चौड़े सेंट पीटर चौराहे व स्तंभों का निर्माण 1667 में ब्रनीनी द्वारा पूरा करवाया गया। यह इटली का सबसे विशाल चौक है। इसके स्तंभों एवं अन्य स्थानों को 140 संतों की मूर्तियों से सजाया गया है। वैटिकन सिटी का रेडियो स्टेशन वैटिकन गार्डन में स्थित है और इससे विश्व की 20 भाषाओं में प्रसारण किया जाता है।

वैटिकन सिटी में सड़कें नाममात्र ही हैं अधिकतर गलियां एवं गलियारे हैं। वैटिकन सिटी का रेलवे ट्रैक मात्र 0.86 किमी लंबा है। इसके रेलवे स्टेशन को ई.1930 में खोला गया था। ईसाई धर्म के प्रसार से पहले भी इस स्थान को पवित्र माना जाता था और किसी को भी इस क्षेत्र में रात में ठहरने की अनुमति नहीं होती थी। 13 मई 1981 को एक तुर्क नागरिक ने सेंट पीटर चौराहे पर पोप पर गोली चलाई।

आधुनिक युग में पोप को जान से मारने का यह प्रथम प्रयास था। पोप ने 3 जून 1985 को उस आक्रमणकारी से भेंट की तथा उसे क्षमा कर दिया। इसके बाद इटली ने वैटिकन की स्वतंत्रता पर पुनर्विचार किया और ई.1929 की संधि को रद्द कर दिया। नई संधि के अनुसार वैटिकन की स्वतंत्रता पहले की तरह ही बनी रही किन्तु रोम के अन्य चर्चों को इटली की सरकार ने अपने नियंत्रण में ले लिया।

Dr. Mohanlal Gupta
Dr. Mohanlal Gupta
Dr. Mohan Lal Gupta is a renowned historian from India. He has written more than 100 books on various subjects.

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

21,585FansLike
2,651FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles

// disable viewing page source