Wednesday, June 29, 2022

लाल किले की दर्द भरी दास्तां

इतिहास पुरुष

आधुनिक भारत का इतिहास

आधुनिक भारत का इतिहास, लेखक डॉ. मोहनलाल गुप्ता – अनुक्रमणिका

अध्याय अध्याय – 1 : भारत में यूरोपीय जातियों का आगमनअध्याय – 2 : अंग्रेजों के आगमन के समय भारत की राजनीतिक स्थिति -...

अध्याय – 1 : भारत में यूरोपीय जातियों का आगमन

सिकंदर के भारत में आने (523 ई.पू.) से भी बहुत पहले, रोम के एक शासक ने कहा था- 'भारतीयों के बागों में मोर, उनके...

अध्याय – 2 : अँग्रेजों के आगमन के समय भारत की राजनीतिक स्थिति – 1

अँग्रेज भारत में समुद्री मार्ग से 1608 ई. में आये। उस समय भारत में मुगल बादशाह जहाँगीर का शासन था। मुगलों की केन्द्रीय सत्ता...

साहित्य

बुढ़िया का चश्मा , (हिन्दी लघु नाटक)

प्रस्तावना बुढ़िया का चश्मा भारतीय राजनीति तथा भारत में फैले भ्रष्टाचार पर एक करारा व्यंग्य है। स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद लोगों की आकांक्षाएं जिस प्रकार...

अश्वत्थामा के आँसू

हास्य व्यंग्य नाटिका भूमिका महाभारत का युद्ध हुए 5300 वर्ष से भी अधिक समय व्यतीत हो चुका है किंतु आज भी महाभारत की कथा का रोमांच...

प्रस्तावना

अकबर के राज्यारोहण के समय राजस्थान में ग्यारह रियासतें थीं जिनमें से मेवाड़, बांसवाड़ा, डूंगरपुर तथा प्रतापगढ़ पर गुहिल, जोधपुर एवं बीकानेर पर राठौड़,...
21,585FansLike
2,651FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Most Popular

मध्यकालीन भारत

181 क्या अनारकली पर अधिकार को लेकर लड़े थे अकबर और सलीम!

राजा मानसिंह कच्छवाहा तथा खानेआजम अजीज कोका ने अकबर के आदेश पर सलीम के पुत्र खुसरो को अकबर का उत्तराधिकारी घोषित करने की तैयारी...

182 महान् अकबर शराबी बेटों के लिए रोता हुआ संसार से चला गया!

अकबर ने सलीम की बगावत से नाराज होकर सलीम को राज्याधिकार से वंचित करने तथा सलीम के पुत्र खुसरो का अपना उत्तराधिकारी बनाने का...

183 हिन्दू राजाओं को अपने राज्य में जाने के लिए अकबर से छुट्टी लेनी होती थी!

15 अक्टूबर 1605 को अकबर की मृत्यु हो गई। इस बात में कोई संदेह नहीं है कि भारत में सोलहवीं सदी का उत्तरार्ध अकबर...

184 वेश्याओं के यहाँ जाने वालों के नाम रजिस्टर में लिखवाता था अकबर!

अकबर ने हिन्दू राजाओं पर मजबूती से शिकंजा कसकर उन्हें अपने अधीन कर लिया तथा उन्हीं से अपने राज्य-विस्तार का कार्य करवाया। अकबर ने...

185 गोस्वामी तुलसीदासजी से पीछे रह गया अकबर!

आज अकबर की मृत्यु हुए 417 वर्ष बीत चुके हैं। भारत में शायद ही कोई ऐसा शिक्षित व्यक्ति हो जिसने अकबर का नाम न...

विश्व-इतिहास

अनुक्रमणिका – कैसे बना था पाकिस्तान

1. अनुक्रमणिका - कैसे बना था पाकिस्तान 2. प्राक्कथन 3. भारत स्वयं में एक महाद्वीप है! 4. इस्लाम का वैश्विक विस्तार 5. इस्लाम के विश्वव्यापी प्रसार...

प्राक्कथन

इस पुस्तक को लिखने की पहली बार मेरी इच्छा वर्ष 1985 में हुई थी। यह वह दौर था जब श्रीमती इंदिरा गांधी की हत्या...

Latest Articles

इस्लाम के विश्वव्यापी प्रसार के कारण

अरब के एक छोटे नगर में उत्पन्न इस्लाम विश्व की सबसे बड़ी शक्तियों में से एक बन गया। इस्लाम के तीव्र प्रसार के कई...

ईस्लाम का भारत में प्रवेश और प्रसार

मुस्लिम अरब व्यापारियों ने सातवीं शताब्दी में ही भारत के दक्षिण-पश्चिमी समुद्र तटीय राज्यों से व्यापारिक सम्बन्ध स्थापित कर लिए थे। कुछ अरब व्यापारी...

सूफियों के प्रेम-तराने भी पाकिस्तान की जड़ों को पनपने से नहीं रोक सके

सूफी-मत का आदि स्रोत शामी जातियों की आदिम प्रवृत्तियों में मिलता है जो सीरिया के आसपास शाम नामक देश में रहते थे। सूफी मत...

ब्रिटिश-भारत में साम्प्रदायिक राजनीति

ब्रिटिश-भारत और रियासती-भारत ई.1498 में पहली बार पुर्तगाली व्यापारी वास्कोडिगामा के नेतृत्व में भारत आए। इन व्यापारियों ने भारत से इतना धन कमाया कि यूरोप...

ब्रिटिश-भारत में साम्प्रदायिक समस्या के मुख्य कारण (1)

(1) इस्लाम का भारत की भूमि में बाहर से आना 'हिन्दू-संस्कृति' भारत भूमि पर जन्मी थी। इसी को रूढ़ अर्थ में 'हिन्दू-धर्म' तथा 'हिन्दू-जाति' कहा...

ब्रिटिश-भारत में साम्प्रदायिक समस्या के मुख्य कारण (2)

सर सैयद अहमदखाँ का अलीगढ़ आन्दोलन 1857 की क्रांति के असफल रहने के बाद अँग्रेजों के साथ सामंजस्य के प्रश्न पर मुस्लिम समाज में दो...

Must Read

// disable viewing page source